वीडियो: एटीएस की बड़ी कार्रवाई- हिंदू संगठन सनातन संस्था के सदस्य के घर देशी बम व बम बनाने के सामान का जखीरा बरामद

महाराष्ट्र के मुम्बई में आतंकवाद विरोधी दल एटीएस द्वारा देर  रात एक घर से भारी मात्रा में विस्फोटक जब्त किये गए. 15 अगस्त से पहले इतनी बड़ी मात्रा में विस्फोटक मिलने के बाद से ही पुरे देश के सुरक्षा बालों में हडकंप मचा हुआ है वहीँ दूसरी ओर सुरक्षा को लेकर इंतजामों को ओर पुख्ता किया जा रहा है.

मुंबई के पालघर जिले के नल्लासोपारा में सनातन संस्थान कार्यकर्ता के घर से यह बड़ी मात्रा में विस्फोटक बरामद किया गया है. बरामद विस्फोटक आरडीएक्स है पुलिस के अनुसार नल्लासोपारा पश्चिम के भंडार आली में यह विस्फोटक बरामद किया गया है.

पुलिस के एक अधिकारी के अनुसार एक घर में विस्फोटक होने को लेकर सूचना मिलने के बाद महाराष्ट्र एटीएस और पालघर पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे. पुलिस ने इस मामले में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है जिसका नाम ​वैभव राउत है.

एटीएस के सूत्रों के हवाले से मिली खबर के अनुसार बरामद किये गए विस्फोड में 8 देसी बम मिले है जबकि घर से थोड़ी ही दूरी पर मौजूद उनके एक दुकान में बम बनाने की सामग्री पाई गई है. बताया जा रहा है कि इस दुकान के अंदर सल्फर बड़ी मात्रा में मिला है.

इसके आलावा कुछ डेटोनेटर भी मिले है बताया जा रहा है कि जो सल्फर मिला है उससे लगभग 2 दर्जन बम बनाये जा सकते है. एटीएस ने आरोपी वैभव राउत को गिरफ्तार कर लिया है उसे भोईवाडा कोर्ट के सामने आज दोपहर तक पेश किया जाएगा. पुलिस ने बताया कि मामले की बारीकी से जांच की जा रही है.

आपको बता दें कि सनातन संस्थान की स्थापना 1999 में जयंत बालाजी अठावले ने की थी. सनातन संस्थान से जुड़े लोगों को चार जगहों वाशी, ठाणे, पनवेल (सभी 2007 में हुए) और गोवा (2009 में) धमाकों साल 2013 में नरेंद्र दाभोलकर की हत्या और 2015 में गोविंद पनसारे औप एमएम कलबुर्गी की हत्या करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था.