ज़िंदा लोग तोड़ते हैं हिंदू मुसलमान को, बेटी आसिफ़ा जोड़ गई इंसान से इंसान को- हार्दिक पटेल

आसिफा रेप केस के बाद और अन्य स्थानों पर हुए जैसे सूरत और उन्नाव में गैंगरेप के खिलाफ देश में कई प्रदेश में विरोध हो रहा है वही गुजरात के कई शहरो में बड़ा प्रदर्शन हुआ, इन सभो ज़गहो पर हज़ारो लोग प्रदर्शन करने उतरे.पाटीदार आन्दोलन के नेता हार्दिक पटेल ने भी इन प्रदर्शनों में हिस्सा लिया.

हार्दिक पटेल ने ट्विट्टर पर कहा कि “ज़िंदा लोग तोड़ते है हिंदू मुसलमान को,मरी आसिफ़ा जोड़ गयी हिंदू मुसलमान को सूरत,कठुआ और उन्नाव में बलात्कार की घटना के विरोध में आज अहमदाबाद के ज़ुहापूरा विस्तार में हज़ारों लोगों ने मानवता का धर्म निभाया,ना हिंदू ना मुसलमान देश के लिए सब हिंदुस्तानी”

गुजरात में ही बल्कि हर हिस्से देश में हो रहे बलात्कारो के खिलाफ हर कोई व्यक्ति आक्रोश में है, यूपी के कई शहरो में भी रोजाना हो रहे गैंगरेप के खिलाफ प्रदर्शन की खबर है, लखनउ में डालीगंज पुल पर हजारो लोगो ने जुटकर गैंगरेप के खिलाफ आवाज़ उठाई.इन लोगो की मांग थी कि आरोपियों को फ़ास्ट ट्रैक कोर्ट में सख्त से सख्त सज़ा दिलाई जाए.पर्दर्शनकारियों का बलात्कार करने वालो को फ़ासी देने की मांग की.

कठुआ गैंगरेप मामला किसी से छुपा नहीं ये एक बहुत घिनौना अपराध जिन लोगो ने मंदिर में ले जाकर किया. उसके लिए कोई भी व्यक्ति उन्हें माफ़ नहीं करेगा.

चूँकि इस रेप केस से जुड़े सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. और इस रेप काण्ड में कई पुलिस कर्मी भी शामिल थे. जोकि अपना गुनाह छिपाने के लिए पुलिस की वर्दी का सहारा लेने की कोशिश कर रहे है.

पुलिस की चार्जशीट के मुताबिक जब आसिफा की हत्या की जा रही थी तब हत्या और बलात्कारोपी पुलिसकर्मी ने कहा था कि अभी मत मारिये पहले मुझे इसके साथ बलात्कार करना है.

बता दें कि इस मामले ने अब तूल पकड़ा है शहर, गांव हर जगह इस दरिंदगी के खिलाफ प्रदर्शन हो रहे हैं। वहीं इस मामले के आरोपियों को बचाने के लिये भी भाजपा के कुछ नेताओं द्वारा जूलूस निकाले जा रहे हैं.