आसिफा रेप केस पर राष्ट्रपति ने जताया खेद आईपीएस ने कहा “खेद नहीं एक्शन लीजिये”

देश के नए राष्ट्रपति डॉक्टर रामनाथ कोविंदजी भी ने देश में बढ़ रहे रेप और हत्या जैसे संगीन जुर्म और हाल ही में यूपी के उन्नाव, गुजरात के सूरत, बिहार के सासाराम, और बहुचर्चित कश्मीर के कठुआ में हुए बलात्कार और हत्या पर खेद प्रकट करते है हुए आगे कहा हमारा देश किस दिशा कई और बढ़ रहा है.

जंहा विकास होना चाहिए वंहा केवल अपराधों का विकास हो रहा है न कि देश का विकास हो रहा है. हमारे देश को आज़ाद कराने में की साल लग गए और देश को आजाद हुए भी काफी समय हो चुका फिर भी देश में ऐसी घटनाओं का होना देश लो लज़्ज़ित करता है.

डॉक्टर कोविंद ने आगे कहा कि हमारे देश के लोगों को ये सोचना पड़ेगा कि देश का विकास किस तरह से करना है सबको अपनी जिम्मेदारी समझनी होंगी. ताकि फिर किसी भी महिला और बेटी के साथ ऐसी कुकृत्य न हों. एक और देश की बेटियां अपने देश का नाम रोशन कर रही हैं.

राष्ट्रपति ने कॉमनवेल्थ गेम्स का जिक्र करते हुए कहा कि कॉमनवेल्थ गेस्म 2018 में ही देश की कई बेटियों ने मेडल जीता है, जिनमें मेरी कॉम, मोनिका बत्रा, संगीता चानू, मीराबाई शामिल हैं. दूसरी ओर, देश की कुछ बेटियों को ऐसी घटनाओं का शिकार होना पड़ रहा है.

देश पूर्व आईपीएस संजीव भट्ट ने राष्ट्रपति की इस बात को काटते हुए टिप्पणी की और कहा कि राष्ट्रपित कह रहे हैं कि देश में इस तरह की घटनाऐं शर्मनाक हैं, महामहिम साहब आप राष्ट्र अध्यक्ष हैं, इसलिये आपका फर्ज बनता है कि आप नागरिकों को सुरक्षा मुहैय्या करायें और बोलने के बजाय काम करके दिखायें. देश में नया कानून लाना चाहिए. जो भ्रष्ट न हो.