वीडियो: मुस्लिम महिला पत्रकार के साथ कांवड़ियों ने सरेआम की बदतमीज़ी, वीडियो शेयर करते हुए लिखा यह लोग कौनसे भगवान को खुस करने जा रहे है

देश भर में इस समय सावन के महीने के मद्देनजर कांवड़ यात्राओं का दौर चल रहा है इस दौरान कांवड़ियों कई राज्यों से होकर गुजरते है. इस दौरान लगातार ऐसे खबरें आ रही है इंसानियत को शर्मसार हो रही है धर्म के नाम पर जिस तरह से इस यात्रा में नफरत फैलाया जा रहा है उसे किसी भी धर्म में सही नहीं कहा जा सकता है.

भगवन का नाम लेकर गुंडागर्दी करने वाले धर्म का काम नहीं कर रहे हैं बल्कि किसी ख़ास मकसद के तहेत इस तरह का काम कर रहे है. धर्म कोई भी हो आपको कभी भी हिंसा की इजाजत नही देता है. कांवड़ यात्रा के दौरान कुछ ऐसे ही हिंसा और असामाजिक कार्यों की खबरे लगातार आ रही है.

अभी पिछले दिनों उत्तराखंड का एक विडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था जिस में एक भगवा कपडा पहने शख्स को एक मजिस्द की सीढ़ी पर चढ़ कर भगवा झंडा लहराते हुए देखा जा रहा है. इस घटना के चलते पुरे इलाके में हंगामा मच गया था लेकिन लोगों की सूझ बूझ ने किसी बड़े बावल को रोक दिया.

यह मामला थमा भी नहीं था कि दिल्ली में कांवड़ियों की दंबगाई देखने को मिली इस बार तो यह लोग तोड़फोड़ करते नजर आए. दरअसल एक कार किसी कांवड़िये को छू कर निकल गई थी जिसके बाद उस कार को रोक कर साथ में मौजूद लोगों ने बुरे तरह तोड़फोड़ की और कार को पलट डाला.

इसके बाद एक और वीडियो आया जिसमें कुछ कांवड़ियों द्वारा पुलिस पर पत्थर बाजी करते हुए देखा जा रहा है. वहीँ इस और घटना में पुलिस अधिकारी की कार को कांवड़ियों ने अपना शिकार बनाया. इसके बाद अब एक और वीडियो सोशल मिडियो पर वायरल हो रहा है जिसे फराह खान नाम की एक महिला पत्रकार ने पोस्ट किया है.

फराह ने अपनी पोस्ट में लिखा है कि अभी जिस रिक्शे में मैं थी उस पर पीछे से किसी ने ज़ोर से हॉकी मारी कुछ समझ पाते इतने में दो कांवड़िये बाइक पर सवार हॉकी को हवा में लहराते हुए निकल गए लेकिन हद तो तब हो गई जब कांवड़ियों से भरे एक ट्रक से पानी की थैलियाँ जानबूझकर फेंकी (मारी) गईं. वाक़ई किस भगवान को ख़ुश करने जा रहे हैं ये लोग?