मुंबई: आतंकी वैभव राउत के समर्थन में भंडारी समुदाय और गोरक्षकों ने निकाला मार्च- ATS पर लगाये आरोप

मुंबई: महाराष्ट्र एटीएस के द्वारा आतंकी गतिविधी में शामिल होने के आरोप में गिरफ्तार किए गए आतंकवादी वैभव राउत के समर्थन में बड़ी संख्या में भंडारी समुदाय और गोरक्षकों ने नालसोपारा की सड़कों पर जुलूस निकाला।

शनिवार तक पुलिस हिरासत में रहने वाले राउत को 10 अगस्त को नालसोपारा पश्चिम में अपने घर से आपराधिक षड्यंत्र और सांप्रदायिक सद्भाव को बिगाड़ने के लिए भारी मात्रा में बम विस्फोट करने की योजना के लिए गिरफ्तार किया गया था।

पश्चिम नालसोपारा से सुरु हुए इस जुलूस में लगभग 200 प्रदर्शनकारि थे जो स्टेशन पर जाकर खत्म हुआ। प्रदर्शनकारियों ने भारी पुलिस बल के बीच ‘वंदे मातरम्’ और जय श्रीराम के नारे लगाए। प्रदर्शनकारियों ने कहा कि भंडारी समुदाय के वैभव गांव में अपने हिंदुत्व सिद्धांतों के लिए जाने जाते हैं, उनको एटीएस द्वारा गलत तरीके से गिरफ्तार किया गया है।

बता दें कि महाराष्ट्र एटीएस ने पिछले हफ्ते पालघर के नाला सोपारा से वैभव राउत शरद कलस्कर और पुणे से सुधनव गोंधालेकर तीन आतंकियों को गिरफ्तार किया था। पुलिस को इनके पास से भारी मात्रा में गोला-बारूद मिला था जिसमें 11 देसी तमंचे, पिस्टल, मैगजीन, एयर गन और बम बनाने में इस्तेमाल होने वाला सामान शामिल था। ये गिरफ्तारी गौरी लंकेश की हत्या की जांच कर रही एसआईटी के इनपुट पर हुई थी।

बुधवार को, एटीएस ने उसके वाहन को जब्त कर लिया था, संदेह था कि विस्फोटक परिवहन के लिए इस्तेमाल किया गया था। सादे कपड़े की एक टीम एटीएस अधिकारी पिछले कुछ दिनों से गांव में निगरानी रख रही है। पालघर में भी गुरुवार को विरोध प्रदर्शन से पहले एक मार्च का आयोजन किया।

विरोधियों ने राउत के पोस्टर वाली टी-शर्ट पहनी और मांग की कि उन्हें रिहा कर दिया जाए। उनकी रिहाई की मांग करने वाले बैनर भी प्रदर्शनकारी लिए हुए थे। राउत, राइट विंग से सहानुभूति रखता है और हिंदू संगठन सनातन संस्थान के लिए एजेंट के रूप में काम करता है