सोनू निगम के बाद अब महाराष्ट्र नव निर्माण सेना के अध्यक्ष राज ठाकरे ने दिया नमाज पर विवादित बयान

नमाज के लिए लाउडस्पीकर के प्रयोग को लेकर महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के प्रमुख राजठाकरे ने विवादित बयान दिया है. उन्होंने लाउडस्पीकर के इस्तेमाल को लेकर सवाल उठाए है. राजठाकरे ने कहा है कि नमाज पढने के लिए लाउडस्पीकर की क्या जरूरत है.

इसके आलावा राजठाकरे ने रास्ते में नामज़ पढ़ने को लेकर भी टिप्पणी की है. राज ठाकरे ने कहा कि आज मैं देश के और महाराष्ट्र के सभी मुस्लिमों को बोलना चाहता हूँ कि तुम्हे नमाज़ के लिए लाउडस्पीकर क्यों चाहिए. तुम्हें सुबह की अजान देने के लिए क्यों लाउडस्पीकर चाहिए किसको बताना चाहते हो?

आगे राज ठाकरे ने कहा कि नमाज़ पढ़ना है तो घरों में पढ़ो रास्ते बंद क्यों कर रहे हो? अपनी अपनी जिम्मेदारी सब लोग खुद समझो. जिससे राज्य या देश में सघर्ष की स्थिति ना बने. वहीँ राज ठाकरे ने महाराष्ट्र में ओबीसी कोटे के आरक्षण के लिए मराठा आंदोलन को सही ठहराया.

राज ठाकरे ने कहा कि सरकार को जनता की भावनाओं के साथ इस तरह खिलवाड़ नही करना चाहिए उसे मराठा आरक्षण पर अपने इरादे और भूमिका को स्पष्ट कर देना चाहिए. ठाकरे ने आंदोलन के दौरान हुई हिंसा के लिए राज्य सरकार को जिम्मेदार ठहराया है.

उन्होंने कहा कि अगर बीजेपी और शिवसेना की गठबंधन सरकार शासन नहीं कर सकती है तो उसे इस्तीफा दे देना चाहिए. इसी के साथ राज ठाकरे ने महाराष्ट्र के युवाओं और किसानों से अपील करते हुए कहा कि वह आत्महत्या न करे. बता दें कि मराठा आंदोलन के दौरान एक युवक ने गोदावरी नदी में कूदकर आत्महत्या कर ली थी.

आपको बता दें कि यह पहली बार नही है जब किसी ने अजान और लाउडस्पीकर को लेकर बयान दिया है इससे पहले बॉलीवुड सिंगर सोनू निगम भी ऐसा ही विवादित बयान दी चुके जिसके बाद काफी बावल हुआ था और उन्हें मांफी भी मंगनी पड़ी थी.